Breaking News

अरुण जेटली मुखर नेता थे जिन्होंने भारत में स्थायी योगदान दिया, उनका निधन बहुत दुखद है: PM मोदी अरुण जेटली के निधन पर ममता बनर्जी बोलीं-वह शानदार वकील और सांसद थे जेटली जी के असामयिक निधन से मन व्यथित है, भगवान उनकी आत्मा को शांति प्रदान करे: तेजस्वी यादव अरुण जेटली के निधन के बाद हैदराबाद से दिल्ली लौट रहे हैं गृह मंत्री अमित शाह कांग्रेस पार्टी ने पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली के निधन पर दुख जताया मेरे मित्र और सहयोगी अरुण जेटली जी के निधन से गहरा दुख हुआः राजनाथ सिंह अमित शाह बोले- अरुण जेटली जी के निधन से अत्यंत दुःखी हूं, उनका जाना मेरी व्यक्तिगत क्षति है 12.07 मिनट पर हुआ अरुण जेटली का निधन पिछले कई दिनों से एम्स में भर्ती थे अरुण जेटली लंबे समय से बिमार चल रहे थे अरुण जेटली पूर्व वित्त मंत्री अरूण जेटली का निधन पूर्व वित्त मंत्री अरूण जेटली का निधन एके -47 मामला- अनंत सिंह से दिल्ली के साकेत कोर्ट में किया सरेंडर विपक्ष के 11 नेताओं के साथ शनिवार को कश्मीर जाएंगे राहुल गांधी, लोगों से करेंगे बात फ्रांस की दो टूक, कोई तीसरा देश दखल न दे कश्मीर में महाराष्ट्र के भिवंडी में इमारत गिरी, दो की मौत, कई घायल दुनिया भर के देश मंदी का सामना कर रहे हैं- वित्त मंत्री दुनिया में मांग में कमी के आसार, भारत की अर्थव्यवस्था बेहतर हालत में: वित्त मंत्री

Home / Education

JEE Main 2019: गणित के प्रश्नों ने छुड़ाए छात्रों के पसीने, केमिस्ट्री के सवाल आसान

nationfirst.in

15 Jan 2019 13:02 PM 

नई दिल्ली: नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) आज दूसरे दिन JEE Main 2019 परीक्षा का आयोजन कर रही है. पहले दिन की परीक्षा बुधवार को आयोजित की गई थी. आज पेपर वन की परीक्षा समाप्त हो गई है. परीक्षा देने वाले छात्रों का कहना है कि पेपर वन सामान्य तौर पर थोड़ा कठिन था. छात्रों का कहना है कि फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथ्स में से आज की परीक्षा में सबसे मुश्किल मैथ्स ही था. 9 जनवरी को आयोजित किए गए एग्जाम में भी छात्रों ने मैथ्स से ही कठिन सवाल पूछने की बात कही है. इस बार JEE Main की परीक्षा दे रहे छात्रों का कहना है कि सबसे सरल तीनों विषयों में से केमिस्ट्री से ही सवाल पूछे जा रहे हैं.

9 जनवरी को एनटीए ने आर्किटेक्चरल इंजिनियरिंग में दाखिले के लिए जेईई मेन की परीक्षा ली थी. इस बार ऑनलाइन परीक्षा 16 जनवरी तक ली जाएगी. यह पहला मौका है जब नवगठित एनटीए जेईई मेन की परीक्षा आयोजित कर रही है. इस बार से बोर्ड ने ऑफलाइन परीक्षा का पैटर्न पूरी तरह से खत्म कर दिया है. अब सिर्फ ऑनलाइन एग्जाम हो रहे हैं. जेईई मेन की परीक्षा देश के प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग संस्थान आईआईटी और एनआईटी में दाखिले के लिए हर साल आयोजित की जाती है.

इस बार सरकार ने इस परीक्षा में दो अहम बदलाव किए हैं. पहले रैंकिंग के आधार पर छात्रों का इस परीक्षा के माध्यम से आईआईटी और एनआईटी में दाखिला होता था, लेकिन इस बार से पर्सेंटाइल स्कोर के आधार पर छात्रों का इंजीनियरिंग संस्थान में दाखिला होगा. दूसरा बड़ा बदलाव ये किया गया है कि अब परीक्षा साल में दो बार आयोजि की जाएगी. इन दोनों परीक्षा में से छात्रों का स्कोर जिस परीक्षा में ज्यादा होगा वही मान्य होगा.

जेईई मेन की इस साल पहली परीक्षा जनवरी में आयोजित की जाएगी जो अभी चल रही है, जबकि दूसरी परीक्षा अप्रैल में आयोजित की जाएगी. छात्र अपने मन से दोनों या किसी एक परीक्षा में बैठ सकते हैं. दोनों ही बार परीक्षा का आयोजन लगभग 15 दिनों तक किया जाएगा. सरकार ने परीक्षा में ये बदलाव छात्रों के लिए प्रवेश परीक्षा प्रक्रिया आसान हो इस कारण लिए हैं.

संबंधित समाचार

Leave your comments


मै भी हूँ Journalist ×
मै भी हूँ Journalist